रूस का दावा, कोरोना टीके का नहीं दिखा कोई दुष्प्रभाव

जालंधर, 18 सितंबर   पंजाब के जालंधर में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 267 नये मामले सामने आए जबकि 11 की मौत हो गई।

जिले में 267 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि होने से संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 10931 हो गई है जबकि 11 लोगों की मौत हो जाने से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 301 हो गई है जबकि 174 रोगियों को स्वस्थ होने पर आज अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इससे ठीक होने वालों की संख्या 8144 हो गई है।

सिविल सर्जन द्वारा दी गई जानकारी अनुसार अब तक जिले में 129415 लोगों के नमूने जांच के लिए गए थे जिनमें से 114665 की रिपोर्ट नकारात्मक आई है।


अमृतसर के 12 गेटों से गुजरने वाली आउटर सर्कुलर रोड बनेगी,‘स्मार्ट रोड’: सोनी
अमृतसर, 18 सितंबर (वार्ता) स्मार्ट सिटी मिशन के तहत वॉल सिटी अमृतसर के चारों ओर 12 गेटों से होकर गुजरने वाली आउटर सर्कुलर रोड का कायाकल्प करके स्मार्ट रोड के तौर पर विकसित किया जाएगा।

पंजाब के कैबिनेट मंत्री ओ पी सोनी ने शुक्रवार को 125 करोड़ रुपये से विकसित की जाने वाली इस 7.4 किलोमीटर लंबी रोड की परियोजना का शुभारंभ करते हुए कहा कि मौजूदा हालत में रोड काफी अव्यवस्थित हैं, जिससे ट्रैफिक जाम की समस्या बनी रहती है। पैदल चलने वालों के लिए भी न के बराबर सुविधा है। लोग फुटपाथों पर कब्जे किए हैं और स्ट्रीट वेंडर भी बड़े अव्यवस्थित तरीके से रेहड़ियां लगाते हैं। उन्होंने कहा कि इन सभी मुश्किलों और चुनौतियों को ध्यान में रखकर इस रोड को स्मार्ट रोड के तौर पर डिजाइन किया गया है।

श्री सोनी ने कहा कि यह स्मार्ट रोड अगले 28 महीनों में बनकर तैयार हो जाएगा, जिसका काम पूरा हो जाने के बाद अगले पांच सालों तक कांट्रेक्टर द्वारा रखरखाव करने के साथ-साथ अवैध पार्किंग रोकने तथा अतिक्रमण को रोकने के लिए मार्शल भी तैनात किए जाएंगे।

हरियाणा रोडवेज के दो कर्मचारियों की कोविड-19 से मौत, बिफरे यूनियन नेता

अमृतसर स्मार्ट सिटी की सीईओ कोमल मित्तल ने कहा की अमृतसर में यह स्मार्ट सिटी मिशन के तहत अब तक का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है, जिसके तहत सड़क के मौजूदा सीवरेज की डी-सिल्टिंग की जाएगी तथा जहां पर सीवरेज की हालत खराब होगी, वहां पर उसकी मरम्मत करने के साथ-साथ नई लाइन भी डाली जाएगी। बिजली की तारों के साथ-साथ हर प्रकार की केबल और टैलिफोन की तारों को अंडरग्राउंड डक्ट बनाकर उसमे शिफ्ट किया जाएगा, जिससे भविष्य में किसी भी प्रकार की केबल लाइन बिछाने के लिए खुदाई नहीं करनी पड़ेगी।

कोमत मित्तल ने बताया कि बिजली के खम्बों और ट्रांसफार्मर को हटा दिया जाएगा, जिनकी जगह पर नये काम्पेक्ट सब स्टेशन लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि स्मार्ट रोड के तौर पर विकसित की जा ही इस सड़क से वॉल सिटी क्षेत्र में लोकल टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा। अभी टूरिस्ट सिर्फ हेरिटेज स्ट्रीट के दायरे तक ही सीमित रहते हैं लेकिन स्मार्ट रोड के बनने से पूरी वॉल सिटी की सुंदरता बढ़ेगी और टूरिस्ट वॉल सिटी और 12 गेटों के आस-पास के एरिया में भी आसानी से घूम सकेगें, जिससे वहां मौजूद दुकानदारों और व्यपारियों को फायदा होगा और व्यपार के लिए नए अवसर पैदा होंगे।