team england

बर्मिंगम 11 जुलाई, मेजबान इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के फाइनल में जगह बना ली। गुरुवार को एजबेस्टन में खेले गए मुकाबले में उसने पूर्व चैंपियन को 8 विकेट से करारी शिकस्त दी। इंग्लैंड की जीत में जेसन रॉय (85) और क्रिस वोक्स (3/20) की अहम भूमिका रही। ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 223 रन बनाकर आउट हो गई और इंग्लैंड ने करीब 18 ओवर बाकी रहते जीत हासिल कर ली। इंग्लैंड का मुकाबला रविवार को ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान में न्यू जीलैंड से होगा जिसने भारत को हराकर लगातार दूसरी बार विश्व कप के फाइनल में जगह बनाई।

इसका अर्थ यह है कि इस बार विश्व कप को कोई नया चैंपियन मिलना तय है। इंग्लैंड की टीम इससे पहले तीन बार विश्व कप के फाइनल में पहुंची थी लेकिन खिताब जीतने में नाकाम रही थी। इससे पहले इंग्लैंड 1992 में विश्व कप फाइनल में पहुंचा था और वहां उसे पाकिस्तान के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

पांच बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन स्टीव स्मिथ (85) के अलावा कोई और बल्लेबाज टिक नहीं सका। वोक्स ने तीन ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को पविलियन भेजा। इसके बाद इंग्लैंड की सलामी जोड़ी, रॉय और जॉनी बेयरस्टो ने शतकीय पार्टनरशिप की।

सेमीफाइनल में हारा भारत, इमरान के मंत्री ने न्यू जीलैंड को बताया पाकिस्तान की ‘नई मोहब्बत’
27 साल बाद फाइनल में इंग्लैंड
टीम के 124 के स्कोर पर इंग्लैंड को 18वें ओवर में पहला झटका लगा जब बेयरस्टो 34 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें स्टार्क ने LBW किया। जो रूट (49) और इयॉन मॉर्गन 45 रन बनाकर नॉट आउट रहे और इंग्लैंड 27 साल बाद वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंच गया।

क्रिस वोक्स और राशिद की शानदार गेंदबाजी 70181186
इससे पहले मीडियम पेसर क्रिस वोक्स और स्पिनर आदिल राशिद की अगुआई में गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 223 रन पर ढेर कर दिया। ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम शुरू में ही लड़खड़ा गया और एक समय उसका स्कोर 3 विकेट पर 14 रन था। स्टीव स्मिथ (119 गेंदों पर 85 रन) ने एलेक्स कैरी (70 गेंदों पर 46 रन) के साथ चौथे विकेट के लिए 103 रन जोड़े। नौवें नंबर के बल्लेबाज मिशेल स्टार्क (36 गेंदों पर 29) ने भी स्मिथ का अच्छा साथ दिया। इन दोनों ने 51 रन की साझेदारी की। इनके अलावा ग्लेन मैक्सवेल (23 गेंदों पर 22) दोहरे अंक में पहुंचने वाले चौथे बल्लेबाज थे।

पेसर जोफ्रा आर्चर (32 रन देकर 2 विकेट) और वोक्स (20 रन देकर 3 विकेट) ने ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम थर्राया तो लेग स्पिनर राशिद (54 रन देकर 3 विकेट) ने मध्यक्रम लड़खड़ाया। आर्चर और वोक्स ने शुरू में घातक गेंदबाजी का शानदार नजारा पेश किया और ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम लड़खड़ाकर टास जीतकर पहले बल्लेबाजी के उसके फैसले को गलत साबित कर दिया।

 अमेरिका में मानव तस्करी की साजिश में भारतीय को जेल

फिंच बने ‘गोल्डन डक’
आर्चर की पहली गेंद ही इनस्विंगर थी जिस पर उन्होंने कप्तान आरोन फिंच को ‘गोल्डन डक’ बनाया। फिंच ने पगबाधा के लिए डीआरएस लेकर ऑस्ट्रेलिया का रेफरल भी खराब कर दिया। वोक्स ने अगले ओवर में बेहतरीन फॉर्म में चल रहे डेविड वॉर्नर (9) को स्लिप में जॉनी बेयरस्टॉ के हाथों कैच कराया। वॉर्नर अचानक उठती गेंद पर शॉट लगाने को लेकर गफलत में पड़ गए थे। इस विश्व कप में पहली बार खेल रहे पीटर हैंडसकॉम्ब (4) शुरू से असहज दिखे। वोक्स ने उनके बल्ले और पैड के बीच से गेंद निकालकर विकेट उखाड़ा।

ऑस्ट्रेलिया का कैरी को ऊपरी क्रम में भेजने का फैसला सही रहा। लीग चरण में अपने बल्लेबाजी कौशल से दुनिया को अवगत कराने वाले ने इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने स्मिथ के साथ मिलकर पारी संवारने का बीड़ा बखूबी निभाया लेकिन तभी राशिद ने 5 गेंद के अंदर 2 झटके देकर ऑस्ट्रेलिया को फिर से बैकफुट पर भेज दिया। कैरी ने लंबा शॉट खेला लेकिन वह सीधे मिडविकेट पर खड़े जेम्स विन्स के पास चला गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here