सतीश बेरी कुछ सवालों के उत्तर, जो हमारे लिये जानना शायद आवश्यक भी है! अनेक बार यह सवाल उठता है...
जब देवी मां दुर्गा के मंदिरों की चर्चा होती है तो ज्वाला जी मंदिर के प्रति भी उल्लास उमड़ आता है। पंजाब के जालंधर शहर से लगभग 130 किमी की दूरी पर यह शक्तिधाम स्थित है। कांगड़ा तक हवाई...
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में देवी माता ज्वाला जी मंदिर है। यह चिंतापूर्णी माता मंदिर से करीबन 30 किमी की दूरी पर है। पहाड़ी इलाका होने के बावजूद चौड़े मार्ग हैं जिस कारण एक घंटे से भी कम...
सावन माह आरंभ होते ही हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में स्थित देवी मां चिंतापूर्णी मंदिर में भी भंडारे आरंभ हो जाते हैं। लाखों लोग श्रवण मास में देवी की पूजा के लिए पहुंचते हैं और अपने जयकारों से...
सावन महीने का महात्मय सनातनकाल से गाया जाता रहा है। सावन महीना भगवान शिव को भी बहुत ही प्रिय रहा है और इसी कारण हजारों श्रद्धालु कावड़ लेने के लिए हरिद्वार जाते हैं और वहां से नीलकंठ, केदारनाथ, बद्रीनाथ...
नैनीताल। उत्तराखण्ड ऐसा राज्य है, जिसे देवनगरी कहा जाता है। देवों का वास यहीं रहा है। हिमालय इसी राज्य में हैं। केदारनाथ और बद्रीनाथ जैसे धाम भी इसी प्रांत में स्थित हैं। इन दोनों धाम को भगवान शिव का...
error: Content is protected !!