सिटी मजिस्ट्रेट की अदालत का फैसला, एक माह के लिए गुंडा एक्ट का दोषी जिला बदर

श्रीगंगानगर। पंचायती राज चुनावों से पूर्व जिले में शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए आदतन अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही आरंभ कर दी गयी है और ऐसे लोगों को जिला बदर भी किया जा रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार पंचायती राज चुनावों के लिए असामाजिक तत्व किसी भी तरह से अशांति पैदा नहीं कर सकें, इसके लिए पुलिस और प्रशासन सतर्क नजर आ रहा है। कानून व्यवस्था बनाये रखते हुए चुनाव करवाना पुलिस के लिए सदैव चुनौती रहा है।

इलाबाद बैंक रॉबरी में पुलिस के हाथ दूसरे दिन भी खाली

मुकलावा थाना पुलिस के इस्तगासे के आधार पर एडीशनल डिस्ट्र्रिक मजिस्ट्रेट अरविंद जाखड़ की अदालत ने एक युवक को गुंडा एक्ट का दोषी मानते हुए उसको एक माह के लिए जिला बदर कर दिया है। यह आदेश आज प्रात: सिटी मजिस्ट्रेट की अदालत ने सुनाये। मुकलावा पुलिस ने आदतन अपराधी लखविन्द्रसिंह पुत्र रेशमसिंह निवासी 15 एनपी को गुंडा एक्ट की कार्यवाही के लिए चिन्हित करते हुए उसके खिलाफ इस्तगासा पेश किया था। इस इस्तगासा में दोनों पक्षों की सुनवाई के उपरांत अदालत ने लखविन्द्रसिंह को एक माह के लिए जिला बदर करने के आदेश दिये है।