ivanka and trump
राष्ट्रपति डोनालड ट्रम्प और इंवाका ट्रम्प। फाइल चित्र

अमेरिका के जार्जिया राज्य में मानव तस्करी पर नियंत्रण के लिए एक बड़ा अभियान आरंभ किया गया। छोटी-छोटी बालिकाओं के साथ अमानवीय यौन व्यवहार के मामले सामने आने के बाद संबंधित प्रात: के राज्यपाल ब्रायन केम्प ने एक आयोग का गठन किया है।

राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा, न्यूयार्क शहर को बंद करना होगा

इस आयोग में सरकारी अधिकारियों के साथ-साथ स्वयंसेवी संगठन, कानून-व्यवस्था संभालने वाले अधिकारी आदि शामिल किये जायेंगे। यह संस्था पीडित परिवारों को मानवीय व कानूनी सहायता उपलब्ध करवायी और मानव तस्करी में लिप्त लोगों को सजा दिलाने के लिए भी कार्य करेगी।

जार्जिया राज्य में पिछले दिनों खुलासा हुआ था कि औसतन 14 वर्ष की बालिकाओं की मानव तस्करी के जरिये उन्हें वेश्यावृत्ति करवायी जा रही है। एक बालिका के साथ हर माह करीबन 72 सौ बार यौन संबंध बनाये जा रहे थे। इस तरह का क्रूर व्यवहार के मामले सामने आते ही एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किये गये हैं।

अमेरिका में मजदूर दिवस पर ट्रम्प और इवांका ने श्रमिकों की मेहनत को सराहा

इन आदेशों के उपरांत गत दिवस ही 39 बच्चों को बरामद करने में भी सफलता हासिल हुई है। यह कार्य यूएस मार्शल्स सर्विस के अधिकारियों ने किया है। द टेलीग्राफ ने इस संबंध में एक विस्तृत रिपोर्ट भी प्रकाशित की है।

छोटी-छोटी बालिकाओं के साथ हो रहे अमानवीय व्यवहार की जानकारी स्वयं इवांका ट्रम्प ने दुनिया के साथ साझा की है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की प्रेरणा से आरंभ किये गये इस अभियान पर स्वयं इवांका भी नजर रख रही हैं। वहीं अफ्रीकन रिफ्यूजी के कल्याण के लिए भी कार्य किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि बालिकाओं के साथ होने वाले क्रूर व्यवहार दशकों से जारी था किंतु अब अश्वेत लोगों के लिए आंदोलन कर रहे बड़े-बड़े नेता उस समय चुप रहे थे और इस मामले को अगर इवांका ने समय रहते हुए ध्यान नहीं दिया होता तो आज न जाने कितने और बच्चों को मानव तस्करी के जरिये वेश्यावृत्ति के धंधे में डाल दिया जाता और उनके साथ क्रूरतम व्यवहार होता।