ips rashi dogra dudi
पुलिस अधीक्षक राशि डोरा। फाइल फोटो

श्रीगंगानगर। राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में तबलीगी जमात से संबंध रखने वाले दो लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के उपरांत उसके सम्पर्क में आये लोगों को भी क्वारंटीन किया जाने लगा है। जिले में 50 लोगों के सैम्पल लिये गये हैं। हनुमानगढ़ में 2 किमी नहीं बल्कि पांच किमी से भी ज्यादा इलाके में महाकरफ्यू लगाया गया है। इस दौरान लोगों को परेशानी नहीं हो, इसके लिए दूध सप्लाई से जुड़े लोगों को अनुमति दी गयी है। आवश्यक वस्तुओं की घर-घर सप्लाई होगी। एसपी राशि डोगरा स्वयं इस पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रही हैं और वे एक-एक पल की जानकारी ले रही हैं। पुलिस कर्मचारियों को करफ्यू क्षेत्र में 24 घंटों की ड्यूटी के लिए तैनात कर दिया गया है। श्रीगंगानगर जिले में कलक्टर शिव प्रसाद नकाते स्वयं कमान संभाल चुके हैं। हनुमानगढ़ में डिटेक्ट हुए कोरोना पॉजिटिव के सम्पर्क में आने के संदेह में नूरपुरा गांव में 9 लोगों को क्वारंटीन किया गया। डीएम श्री नकाते स्वयं भी गांव में पहुंचे थे ताकि किसी भी तरह की स्थिति पर तुरंत फैसला लिया जा सके। हालांकि वहां पर किसी तरह का विरोध सामने नहीं आया।

Coronavirus Live News : प्रधानमंत्री मोदी ने दिये लॉकडाउन बढ़ाने के संकेत

हनुमानगढ़ पुलिस अधीक्षक राशि डोगरा ने “सांध्यदीप” को बताया कि हनुमानगढ़ में डिटेक्ट हुए दोनों कोरोना पॉजिटिव का सीधा सम्पर्क तब्लीगी जमात के मरकस से नहीं रहा है। वे किन लोगों के सम्पर्क में आये और ये रोग ले बैठे, इसकी अभी जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि इन लोगों के सम्पर्क में आये लोगों को भी क्वारंटीन कर उनका सैम्पल लिया है।

एसपी राशि डोगरा के अनुसार हनुमानगढ़ में 50 ऐसे लोगों के सैम्पल लिये गये हैं अथवा लिये जा रहे हैं जो इनके सीधे सम्पर्क में आये थे। हनुमानगढ़ टाउन क्षेत्र में बीती रात ही करफ्यू लागू कर दिया गया था। उन्होंने यह भी कहा कि महाकरफ्यू पांच किमी की परिधि में लागू रहेगा।

कोरोना वायरस : अमेरिका-यूरोप में नरसंहार के लिए कौन जिम्मेदार?

वहीं अन्य सूत्रों ने यह भी जानकारी दी गयी है कि लोगों को परेशानी से बचाने के लिए डोर-टू-डोर हर आवश्यक वस्तु की सप्लाई की व्यवस्था की जा रही है। लोगों को घरों में रहने के लिए पाबंद किया जा रहा है। दूध सप्लाई से जुड़े लोगों को करफ्यू क्षेत्र में आने के लिए पास दिया जायेगा।

वहीं श्रीगंगानगर जिला कलक्टर शिव प्रसाद नकाते के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सादुलशहर तहसील क्षेत्र के गांव नुरपुरा गांव से 9 लोगों को क्वारंटीन किया है। उनको साधुवाली स्थित क्वारंटीन सैंटर में रखा जायेगा।

जिला अस्पताल के पीएमओ डॉ. केएस कामरा ने बताया कि नुरपुरा में जो 9 लोग क्वारंटीन किये गये हैं, उनका सीधा संबंध हनुमानगढ़ के कोरोना पॉजिटिव लोगों से नहीं है किंतु यह लोग उन लोगों के सम्पर्क में थे, जो रोगियों के सीधे सम्पर्क में थे। उन्होंने कहा कि कुछ ऐसी चर्चा चल रही है कि हनुमानगढ़ में पॉजिटिव पाये गये युवक के ससुराल नुरपुरा गांव में था। यह सच नहीं है।

श्रीगंगानगर में मास्क पहनना अनिवार्य, सरकार ने जारी किये आदेश

वहीं सादुलशहर से एक जानकार सूत्र ने बताया कि नुरपुरा गांव में पिछले दिनों कुछ अनजान/बाहरी लोगों को लगातार गांव में आना-जाना बना हुआ था। इस पर गांव के लोगों ने स्थानीय प्रशासन को इसकी सूचना भी दी थी।

राजस्थान पुलिस : डीएसपी राठौड़ ने आटा और राशन का किया वितरण

पीएमओ ने यह भी बताया कि अभी तक सभी 230 लोगों के सैम्पल निगेटिव आये हैं। 4 लोगों के सैम्पल आज लिये गये थे, जिसकी रिपोर्ट कल प्राप्त होगी। सैम्पल जांच के लिए बीकानेर भेजे जाते हैं। उन्होंने बताया कि आज पांच लोगों की सैम्पल रिपोर्ट प्राप्त हुई थी।