अय्यर-राहुल के आतिशी अर्धशतकों से जीता भारत

आकलैंड, 24 जनवरी (वार्ता) मध्य क्रम के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (नाबाद 58) और ओपनर लोकेश राहुल (56) के शानदार अर्धशतकों से भारत ने न्यूजीलैंड को पहले टी-20 मुकाबले में शुक्रवार को आसानी से छह विकेट से हराकर पांच मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। भारत ने इस तरह रिकॉर्ड चौथी बार 200 से ऊपर लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा कर लिया।
न्यूजीलैंड ने ओपनर कॉलिन मुनरो (59), कप्तान केन विलियम्सन (51) और रॉस टेलर (नाबाद 54) के अर्धशतकों से पांच विकेट पर 203 रन का मजबूत स्कोर बनाया लेकिन भारत ने 19 ओवर में चार विकेट पर 204 रन बनाकर मैच समाप्त कर दिया और छह गेंद शेष रहते जीत हासिल कर ली।

विजयवर्गीय का बयान निंदनीय: कांग्रेस
अय्यर ने 29 गेंदों पर नाबाद 58 रन की मैच विजयी पारी में पांच चौके और तीन छक्के लगाए और उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। राहुल ने 27 गेंदों पर 56 रन की पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाए। कप्तान विराट कोहली ने 45 रन का योगदान दिया। राहुल ने भारत की जीत की आधारशिला रखी और अय्यर ने भारत को जीत की मंजिल पर पहुंचाया। भारत की लक्ष्य का पीछा करते हुए यह तीसरी सबसे बड़ी जीत है। इस मुकाबले में कुल पांच अर्धशतक बने और किसी टी-20 मैच में पांच अर्धशतक बनने का यह पहला मौका है।
अय्यर ने टिम साउदी पर विजयी छक्का मारकर मैच समाप्त किया। अय्यर ने साउदी के पारी के 19वें ओवर की पहली गेंद पर छक्का और दूसरी गेंद पर चौका मारकर अपना अर्धशतक पूरा किया। इस ओवर में कुल 18 रन पड़े और भारत ने आसान जीत हासिल कर ली जबकि लक्ष्य बड़ा था।


लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने उपकप्तान रोहित शर्मा को दूसरे ओवर में ही गंवा दिया। रोहित ने एक छक्का लगाया लेकिन मिशेल सेंटनर ने उन्हें रॉस टेलर के हाथों कैच करा दिया। रोहित छह गेंदों में सात रन बना सके। इसके बाद शानदार फॉर्म में चल रहे ओपनर लोकेश राहुल ने अपने कप्तान विराट कोहली के साथ दूसरे विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी की।
राहुल अपना अर्धशतक पूरा करने के बाद लेग स्पिनर ईश सोढी का शिकार बने। राहुल ने 27 गेंदों पर 56 रन की पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाए। राहुल का विकेट 115 के स्कोर पर गिरा। इसके छह रन बाद कप्तान विराट भी आउट हो गए। विराट का विकेट तेज गेंदबाज ब्लेयर टिकनर ने लिया।

विराट ने 32 गेंदों पर 45 रन में तीन चौके और एक छक्का लगाया। तीन विकेट 121 रन पर गिरने के बाद भारतीय पारी संकट में नजर आने लगी थी और शिवम दुबे के 142 के स्कोर पर आउट होने के बाद संकट और भी बढ़ गया। दुबे ने नौ गेंदों पर 13 रन में एक चौका और एक छक्का लगाया और उन्हें सोढी ने आउट किया।


अय्यर को मनीष पांडेय के रूप में बेहतरीन जोड़ीदार मिला और दोनों ने 62 रन की तेज तर्रार अविजित साझेदारी कर मेजबान टीम की जीत हासिल करने की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। अय्यर ने आक्रामक शॉट खोले जिससे टीम पर रन गति का दबाव नहीं रहा।
भारत को आखिरी तीन ओवर में 25 रन चाहिए थे लेकिन अय्यर ने 19वें ओवर में 18 रन ठोककर मैच को अंतिम ओवर में जाने नहीं दिया। पांडेय ने 12 गेंदों पर नाबाद 14 रन में एक छक्का लगाया। भारत को 10 वाइड सहित 11 अतिरिक्त रनों का भी फायदा मिला। कीवी टीम की तरफ से सोढी ने 36 रन पर दो विकेट, सेंटनर ने 50 रन पर एक विकेट और टिकनर ने 34 रन पर एक विकेट लिया।
इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। न्यूजीलैंड ने पहले विकेट के लिए 7.5 ओवर में 80 रन की शानदार शुरुआत की। मार्टिन गुप्तिल ने 19 गेंदों पर 30 रन में चार चौके और एक छक्का लगाया। मुनरो 42 गेंदों में छह चौकों और दो छक्कों के सहारे 59 रन बनाकर टीम के 116 के स्कोर पर आउट हुए।

कॉलिन डी ग्रैंडहोम खाता खोले बिना आउट हो गए। गुप्तिल को शिवम दुबे ने, मुनरो को शार्दुल ठाकुर ने और ग्रैंडहोम को रवींद्र जडेजा ने आउट किया। मेजबान टीम के तीन विकेट मात्र 117 रन पर गिर गए थे लेकिन विलियम्सन ने फॉर्म में वापसी करते हुए अर्धशतक बनाया। कीवी कप्तान ने टेलर के साथ चौथे विकेट के लिए 61 रन की साझेदारी की।

विलियम्सन ने 26 गेंदों पर 51 रन की तूफानी पारी में चार चौके और चार छक्के लगाए। विलियम्सन को लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने आउट किया जबकि जसप्रीत बुमराह ने टिम सीफर्ट का विकेट लिया। टेलर 27 गेंदों में तीन चौकों और तीन छक्कों के सहारे 54 रन बनाकर नाबाद रहे।
भारत की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने 31 रन पर एक विकेट, शार्दुल ठाकुर ने 44 रन पर एक विकेट, युजवेंद्र चहल ने 32 रन पर एक विकेट, दुबे ने 24 रन पर एक विकेट और जडेजा ने 18 रन पर एक विकेट लिया जबकि मोहम्मद शमी चार ओवर में 53 रन लुटाकर कोई विकेट नहीं ले पाए।