गंदे पानी के खड़े रहने से मुख्य सड़क का हुआ सत्यानाश

– मौसम विभाग से मीरा चौक नालों की सिल्ट नहीं निकलने से नालियां हुई ओवरफ्लो
श्रीगंगानगर। लगभग दो साल से जवाहरनगर क्षेत्र के हाउसिंग बोर्ड के वार्ड नंबर 53 में अधिकतर नाले आवेरफ्लो हुए पड़े हैं, जिस कारण सड़कों पर गंदा पानी पसरा रहता है, जिस और नगर परिषद बिल्कुल ध्यान नहीं दिया जा रहा है। मीरा चौक को जोडऩे वाली मुख्य सड़क पर नालियों का गंदा पानी लोगों के घरों के खड़ा रहता है, जिस कारण सड़कें पूर्णतयां क्षतिग्रस्त हो चुकी है। सड़कों में बड़े-बड़े गड्डे हो चुके हैं, जिस कारण हर समय दुर्घटना का भय बना रहता है।

पूर्व पार्षद अमरजीत गिल ने बताया कि अनेक बार नगर परिषद में शिकायत करने के बावजूद कोई कार्यवाही नहीं हो रही है। नालियों की सफाई नहीं होने के कारण मौहल्लवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

वर्तमान पवनदीप कौर गिल ने आरोप लगाया कि पूर्व संदीप शर्मा ने के कार्यकाल से इस सड़क का हाल ऐसा है, अगर उन्होंने समय रहते इस सड़क की ओर ध्यान दिया होता तो आज वार्ड 53 के लोगों को इस परेशानी का सामना नहीं करना पड़़ता। आज सड़क जर्जर अवस्था में है और इस सड़क पर हमेशा नालियों का गंदा पानी ओवरफ्लो होकर ठहरा रहता है, जिससे आमजन को आने-जाने में काफी दुविधा का सामना करना पड़ता है। इस सड़क के हालात के बारे नगर परिषद के आला अधिकारियों-कर्मचारियों को कई बार अवगत करवाया गया है, मगर अधिकारियों के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही है।

यातायात नियमों का पाठ पढ़ाया
नाला गैंग से सफाई करवाने की जरूरत
एक सफाई कर्मचारी ने बताया कि शुगर मिल के पास से गंदे पानी की मोटर से जो पानी निकलता है वो सारा मौसम विभाग की ओर से जाने वाला बड़ा नाला जो कि मीरा चौक की ओर गंदे पानी का प्रवाह ते२ज गति से होता है और उसमें काफी समय से जमा गंदगी (सिल्ट) होने की वजह से गंदा पानी नहीं निकल पाता और वापिस अशोक नगर ए की नालियों को ओवरफ्लो कर देता है, जिससे वहां के निवासी काफी समय से इस समस्या को लेकर परेशान है। नगर परिषद की नाला गंैग को मौसम विभाग से मीरा चौक तक बने बड़े नाले की सफाई की जाये तो इस समस्या का हल कुछ हद तक हो सकता है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here