सुरेन्द्रसिंह राठौड़
श्रीकरणपुर में लोगों से सोशल डिस्टेसिंग और लॉकडाउन की पालना के लिए समझाइश करते डीवाईएसपी राठौड़।

श्रीगंगानगर। राजस्थान के श्रीकरणपुर सर्किल का अधिकांश क्षेत्र सीमावर्ती है। यहां होने वाली अधिकांश गतिविधियों की जानकारी जिला मुख्यालय तक नहीं पहुंचती है। वहीं इसी तरह से जिला मुख्यालय से सूचनाओं को पहुंचाया जाना भी आसान कार्य नहीं है। हालांकि पिछले कुछ समय में सोशल मीडिया ने इस दूरी को कम करने का प्रयास किया है। इस तरह के माहौल के बीच में भी एक अधिकारी है जो सुबह से लेकर शाम तक गांव-गांव और ढाणी-ढाणी पहुंचकर लोगों को सतर्क कर रहे हैं। यह सब उस समय हो रहा है जब विश्वभर में कोरोना वायरस का प्रकोप देखा जा रहा है।

श्रीकरणपुर क्षेत्र के डीवाईएसपी सुरेन्द्रसिंह राठौड़ प्रतिदिन अनेक गांवों का भ्रमण कर रहे हैं। युवाओं को प्रेरित कर रहे हैं कि वे गांव के लोगों से समझाइश कर उनको घरों में रहने के लिए कहें। गांव में बाहर से आने वाले लोगों की तत्काल जानकारी देने के लिए वे उनको अपना नंबर भी दे रहे हैं। इस तरह से वे गांव-गांव, ढाणी-ढाणी में अपने सूचना तंत्र को मजबूत कर रहे हैं।

dsp rathore
डीएसपी सुरेन्द्र राठौड़ 32 एच गांव में ग्रामीणों से समझाइश करते।

कोरोना वायरस के कारण हर रोज भयभीत करने वाले समाचार दुनिया भर से आ रहे हैं। देश के लोगों को सोशल डिस्टेसिंग के लिए घरों में ही रहने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। प्रदेश में आपदा प्रबंधन एक्ट लागू है। इसके बावजूद भी अनेक लोग घरों से बाहर निकलते हैं। एक जगह पर एकत्रित होने का प्रयास करते हैं। इसकी रोकथाम के लिए डीवाईएसपी श्री राठौड़ स्वयं आगे आकर कमान संभाले हुए हैं।

कोरोनावायरस पर यूएन की ट्रेड रिपोर्ट में महामंदी की चेतावनी

उन्होंने मंगलवार को करणपुर कस्बे के लोगों से गली-गली में जाकर संवाद किया। उनको घरों में रहने की अपील की। बताया कि वे सोशल डिस्टेसिंग के जरिये ही स्वयं तथा अपने परिवार को सुरक्षित रख सकते हैं।

dsp rathore
गांव 4 एक्स में गश्त के दौरान ग्रामीणों से समझाइश करते राठौड़।

इससे पहले केसरीसिहपुर थानाधिकारी सुरेन्द्र पूनिया के साथ भी उन्होंने कस्बे की गश्त की और सड़कों पर घूमने वाले लोगों से भी सम्पर्क किया।

आईपीएस दलीप जाखड़ : जनरल रैंक से विमुख होकर समाजसेवा को अपनाया

वे गश्त करते हुए दूरस्थ गांव धनूर भी पहुंचे। वहां पीएनबी बैंक के बाहर भीड़ देखकर उन्होंने लोगों को सोशल डिस्टेसिंग के बारे में जानकारी दी।

ताजा समाचार
गांव धनूर में पीएनबी बैंक के बाहर ग्राहकों को सोशल डिस्टेसिंग के लिए प्रेरित करते सुरेन्द्रसिंह राठौड़।

बैंक कर्मचारियों को भी बताया गया कि वे उपभोक्ताओं के कार्य को प्राथमिकता से करें और उन्हें एक निर्धारित फासले पर भी खड़ा करें। इसके अतिरिक्त सीमावर्ती गांव 4 एक्स व 32 एच के साथ-साथ 17 ओ गांव पहुंचकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।