Saturday, May 27, 2023
Saturday, May 27, 2023
HomeReal Estate'श्री राधे इन्कलेव' इलाका वीआईपी, जवाहरनगर से दाम एक चौथाई

‘श्री राधे इन्कलेव’ इलाका वीआईपी, जवाहरनगर से दाम एक चौथाई

श्री राधे इन्कलेवÓ एक बेहतरीन सौगात हो सकती है। मीरा चौक से मात्र 300 मीटर की दूरी पर यह कॉलोनी बसायी जा रही है जो राज्य सरकार एवं नगर विकास न्यास दोनों से ही पंजीकृत है।

श्रीगंगानगर। श्रीगंगानगर शहर में जो लोग जवाहरनगर में भूखण्ड नहीं खरीद पाये या मकान नहीं बना पा रहे हैं, उनके लिए ‘श्री राधे इन्कलेवÓ एक बेहतरीन सौगात हो सकती है। मीरा चौक से मात्र 300 मीटर की दूरी पर यह कॉलोनी बसायी जा रही है जो राज्य सरकार एवं नगर विकास न्यास दोनों से ही पंजीकृत है।

पुलिस को चकमा देकर भागे हवालात के बंदी

अगर मीरा चौक के पूर्व दिशा को मुख्य केन्द्र माना जाये तो दाई तरफ नगर विकास न्यास की जवाहरनगर कॉलोनी है। वहीं बाईं तरफ मात्र 300 मीटर की दूरी पर श्री राधे इन्कलेव को स्थापित किया जा रहा है। इस कॉलोनी को डवल्प करने वाले श्रीनाथ इन्कलेव के पार्टनर हेमंत सिंगल हैं। वे इस कॉलेानी के प्रोजेक्टर हैं और उन्होंने भविष्य की प्लानिंग के साथ इस योजना को लाँच किया है।

लम्पी बीमारी से गांव-गांव में बन रही है हड्डा रोड़ी, जूनोसिस से इंसान बचकर रहें

श्री सिंगल कॉलोनी डवल्प करने वाले एक अनुभवी व्यकित्व हैं। श्री राधे इन्कलेव से पूर्व श्रीनाथ इन्कलेव, श्रीनाथ विला, श्रीनाथ होम्स, स्काई हाई में भी वे एक महत्वपूर्ण अंग रहे हैं। हनुमानगढ़ मार्ग पर नहर के किनारे यूडी ग्रांड होटल के साथ ही स्काई हाई कॉलोनी है। इस कॉलोनी में भूखण्डों को निर्मित कर बेचा गया था।

SandhyaDeep 10-08-2022

यह कॉलोनी इतनी सुंदर बनी है कि एक बार इस कॉलोनी में प्रवेश करने वाला शांत वातावरण और सुंदरता को देखकर प्रभावित अवश्य होता है। पहले इस कॉलोनी को श्रीगंगानगर से दूर माना जाता था किंतु अब जब यह शहर एक मैट्रो सिटी का रूप धारण करता जा रहा है तो यह दूरी अब समाप्त हो गयी है। अब यह शहरी क्षेत्र ही बन गया है।

जबकि श्री राधे इन्कलेव तो मीरा चौक के बहुत ही नजदीक है। उससे कुछ दूरी पर फ्लाई ओवर है जो सीधे अबोहर मार्ग को इस रोड से जोड़ता है। दूसरी ओर सरकार इस कॉलोनी से चंद कदम की दूरी पर ही मिनी सचिवालय की स्वीकृति प्रदान कर चुकी है और उसकी डीपीआर भी तैयार की जा रही है।

एक साल के भीतर एनएमसी ने श्रीगंगानगर को दिया दूसरा मेडिकल कॉलेज

ध्यान देने योग्य बात यह भी है कि मीरा चौक के दाईं तरफ जवाहरनगर का 6 नंबर सैक्टर का हिस्सा आता है। यह क्षेत्र इतना महंगा हो चुका है कि मिडिल क्लास इस कॉलोनी में भूखण्ड खरीद कर उसको बना ले, यह काफी टफ हो गया है। इस मार्ग पर कभी दाम कम नहीं होते। मंदा हो तो कभी गिरावट नहीं आती और जब तेजी आती है तो बाजार के बराबर दाम चढ़ते हैं।

डवल्पर हेमंत सिंगल बताते हैं कि यह योजना सभी वर्ग के लिए है। सभी प्रकार के भूखण्ड इस योजना में उपलब्ध करवाये जा रहे हैं। उन्होंने कॉलोनी में सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध करवायी जा रही हैं। चौड़ी सड़कें, आकर्षक स्ट्रीट लाइट, पार्क और अन्य गतिविधियां सभी उपभोक्ताओं को उपलब्ध होंगी। यह शहर के सबसे नजदीकी इलाके में एक आवासीय प्रोजैक्ट है।

डोनाल्ड ट्रम्प ने पहली पत्नी को परिवार सहित दी भावभीनी श्रद्धांजली

गोल बाजार, हनुमानगढ़ मार्ग, सूरतगढ़ मार्ग सभी इस इलाके के बहुत नजदीक हैं जबकि अबोहर मार्ग तो चंद कदम की दूरी पर है। इस तरह से आने वाले अगले कुछ महीनों में यह घनी आबादी क्षेत्र में विकसित होने की पूरी संभावना है।

 

श्रीनाथ एनएच-64 मार्केट का भव्य लोकर्पण 14 अगस्त को

श्रीगंगानगर। श्रीगंगानगर शहर की शान बनने वाले श्रीनाथ एनएच-64 मार्केट का लोकार्पण का समय नजदीक आ गया है। आगामी 14 अगस्त को इसका भव्य शुभारंभ हो जायेगा।

 

खतरनाक हैं ‘अफेयर ऑफ्टर मैरिजÓ के साइड इफैक्ट!

मिली जानकारी के अनुसार इस मार्केट में देश-विदेश की कंपनियों के आउटलेट्स आरंभ किये जा रहे हैं। वहीं भारत भर में अपने स्वादिष्ट भोजन के लिए जाना पहचाना नाम सागर रतना भी यहीं आरंभ हो रहा है। सागर रतना देश भर की एक रेस्टोरेंट कंपनी हैं। इस रेस्टोरेंट पर साउथ और नॉर्थ इंडिया की सभी प्रमुख खाद्य पदार्थ उपलब्ध होते हैं। इसका जायका अलग प्रकार का होता है। अभी तक प्रमुख रूप से साउथ इंडियन रेस्टोरेंट की कमी को महसूस किया जा रहा था। अब यह कमी पूरी होने वाली है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments