श्रीगंगानगर। राजस्थान सरकार पंजाबी भाषा बोर्ड के अध्यक्ष पद पर शीघ्र नियुक्ति कर सकती है ओर इस बार जिम्मेदारी श्रीगंगानगर को मिल सकती है।

जो जानकारी सूत्रों ने दी है उसके अनुसार पंजाबी भाषा अकादमी के अध्यक्ष पद पर युवा नेता मनिंदरसिंह मान को नियुक्त किया जा सकता है।

कोरोना काल के दौरान भी मनिंदरसिंह मान ने एक मजबूत समाजसेवी के रूप में स्वयं को स्थापित किया। खालसा शिक्षण संस्थान की प्रबंध समिति के अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने छात्र-छात्राओं को बडी राहत प्रदान की थी और करीबन 80 लाख रुपये की फीस को माफ कर दिया गया था।

वहीं उन्होंने लोगों से कोरोना से बचाव के लिए होम्योपैथी दवा का भी नि:शुल्क वितरण किया। माना जाता है कि यह दवा कोरोना से बचाव के लिए इम्यूनिटी को बढ़ाती है।

पंजाबी  भाषा अकादमी अध्यक्ष पद  के दावेदारों में मनिंदरसिंह मान का नाम प्रथम पंक्ति में बताया जा रहा है। सरकार ने राजनीतिक नियुक्तियों को पिछले दिनों से तेजी दी है। श्रीगंगानगर नगर परिषद बोर्ड में भी पार्षदों को मनोनीत किया जा चुका है।