कैबिनेट सचिव ने ‘निसर्ग’ से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया

नयी दिल्ली 02 जून (वार्ता) कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने आज यहां राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक में चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ से निपटने के लिए गुजरात और महाराष्ट्र राज्य सरकारों तथा अन्य एजेंसियों की तैयारियों की समीक्षा की।

शेयर बाजार में तेजी जारी, सेंसेक्स 522 अंक और निफ्टी 153 अंक उछला

मौसम विभाग ने बताया है कि इस भीषण चक्रवाती तूफान के बुधवार या शाम तक महाराष्ट्र के तट से टकराने की आशंका है। राज्य के तटीय जिलों में 100-110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवायें चलने और बाद में इसकी गति 120 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की आशंका व्यक्त की गयी है। साथ ही इन जिलों में भारी वर्षा होने और 1-2 मीटर ऊंची लहरें उठने का भी अंदेशा है।
चक्रवाती तूफान का महाराष्ट्र के तटीय जिलों रायगढ़, मुंबई, ठाणे एवं पालघर के साथ-साथ गुजरात के वलसाड, नवसारी, सूरत, भावनगर तथा भरूच जिलों और दमन, दादरा और नागर हवेली पर भी व्यापक असर पड़ने की आशंका है।

बैठक में राज्य सरकारों के अधिकारियों ने विभिन्न प्रारंभिक उपायों की जानकारी दी। उन्होंने आश्वासन दिया कि आवश्यक वस्‍तुओं का पर्याप्त भंडार उपलब्ध हैं और सभी आपातकालीन सेवाओं के लिए पूरी तैयारी की गयी है। उन्‍होंने बताया कि दूरसंचार विभाग द्वारा प्रदान की जा रही एसएमएस सुविधा का इस्तेमाल चक्रवाती तूफान से प्रभावित होने वाले लोगों को आगाह करने के लिए किया जा रहा है और इसके साथ ही लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचाया जा रहा है।