US President Donald Trump

वाशिंगटन, अक्टॅबर (वार्ता) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर-पूर्वी सीरिया से अपनी सेना के हटाने का अचानक निर्णय करने के बाद कहा है कि इस फैसले के बाद अगर तुर्की अपने दायरे से बाहर जाकर कुछ भी करता है तो उसकी अर्थव्यवस्था बर्बाद कर दी जाएगी।
श्री ट्रंप ने यह निर्णय उत्तर सीरिया में सैन्य अभियान शुरू करने के तुर्की के फैसले के बाद लिया है।
श्री ट्रंप ने कई ट्वीट करके उत्तर-पूर्वी सीरिया से अमेरिकी सेना को हटाने के अपने फैसला का बचाव किया है। उनके इस फैसले के बाद तुर्की के लिए उत्तरी सीरिया में कुर्द लड़कों पर हमला करने का रास्ता खुल जाएगा।

हरियाणा में फिर से भाजपा की सरकार बनेगी :तोमर
बीबीसी न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार श्री ट्रंप के इस फैसले की उनके रिपब्ल्कन सहयोगियों ने भी आलोचना की है। कुर्द लड़ाके सीरिया में आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका के मुख्य सहयोगी रहे हैं। तुर्की कुर्द लड़कों को आतंकवादी मानता है।

राष्ट्रपति ने सोमवार को ट्वीट किया कि उन्हें इन मूखर्तापूर्ण अंतहीन युद्धों से अमेरिका को बाहर निकलने के लिए चुना गया है और इसलिए तुर्की, यूरोप, सीरिया, ईरान, ईराक, रूस और कुर्द को स्थिति पर विचार-विमर्श करना है।

रविवार को श्री ट्रंप और तुर्की के राष्ट्रपति तैय्यप एर्दोगन के बीच फोन पर बातचीत होने के बाद व्हाइट हाउस ने कहा कि उत्तरी सीरिया में सैन्य अभियान शुरू करने जा रहा है और अब अमेरिकी सेना इस क्षेत्र में नहीं रहेगी।”
इसके बाद, पीठ में छुरा घोंपने के अमेरिकी सहयोगी कुर्द के आरोपों और कई अमेरिकी नेताओं की आलोचना के बाद श्री ट्रंप ने सोमवार को कई और ट्वीट करते हुए तुर्की को चेतावनी दी कि वह उनके निर्णय का फायदा ना उठाए नहीं तो वह उसकी अर्थव्यवस्था को तबाह कर देंगे।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here