राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प
ट्रम्प ने कहा कि अमेरिकी सेना ने अपने कौशल का इस्तेमाल करते हुए इलैक्ट्रॉनिक जैमर से ईरान के ड्रोन को नीचे उतार लिया। अमेरिका इसे भड़काऊ कार्यवाही बता रहा है और अंतरराष्ट्रीय देशों से भी आग्रह किया है कि वह ईरान के इस कृत्य की निंदा करे। फाइल फोटो

वॉशिंगटन 09 जुलाई, अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने आयात शुल्क को लेकर एक बार फिर भारत पर अपनी भड़ास निकाली है। ट्रंप ने मंगलवार को कहा कि भारत अमेरिकी उत्पादों पर भारी-भरकम शुल्क लगाकर खूब फायदा ले चुका है, लेकिन अब इसे अमेरिका बर्दाश्त नहीं करेगा।

पंजाब के फूड प्रोसेसिंग सेक्टर में हुआ 1200 करोड़ का निवेश: हरसिमरत

ट्रंप की यह टिप्पणी ओसाका में बीते 28 जून को जी20 शिखर सम्मेलन से इतर ट्रंप की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक के कुछ ही दिनों के बाद आई है, मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय व्यापार के विवादों से जुड़ी चिंता जाहिर की थी और मुद्दों के समाधान के लिए उनके व्यापार मंत्रियों की बैठक के लिए सहमति जताई थी। ट्रंप ने मंगलवार को ट्वीट किया,:’भारत ने अमेरिकी उत्पादों पर भारी-भरकम शुल्क लगाकर खूब फायदा कमाया है। लेकिन अब यह नहीं होने वाला!’

इस सप्ताह के अंत में अमेरिकी वाणिज्य मंत्री विलबर रॉस तथा ऊर्जा मंत्री रिक पेरी वॉशिंगटन डीसी में भारत पर केंद्रित एक महत्वपूर्ण कांफ्रेंस को संबोधित करने वाले हैं।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति ट्रंप अपनी ‘अमेरिका फर्स्ट’ पॉलिसी को जोर-शोर से आगे बढ़ा रहे हैं और ‘भारी-भरकम आयात शुल्क’ लगाने को लेकर भारत की मुखर आलोचना कर चुके हैं। ट्रंप भारत को ‘टैरिफ किंग’ बता चुके हैं।

‘सभी चोरों का नाम मोदी’ बयान पर सूरत कोर्ट ने राहुल गांधी को भेजा समन, 16 जुलाई को पेशी

द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने में व्यापार की अहम भूमिका होती है, हालांकि हाल के महीनों में मार्केट एक्सेस और टैरिफ को लेकर जो विवाद पैदा हुआ है, उसके गहराने की आशंका बढ़ गई है।