Thursday, February 2, 2023
Thursday, February 2, 2023
HomeCrime Petrolपत्नी के साथ अवैध संबंधों से आक्रोशित चाचा ने भतीजे की कर...

पत्नी के साथ अवैध संबंधों से आक्रोशित चाचा ने भतीजे की कर दी हत्या

लुधियाना (टीएसएन)। पंजाब के लुधियाना जिले में एक व्यक्ति ने अपने भतीजे की ही तेजधार हथियारों से हत्या कर दी। भतीजे और चाची दोनों लिव इन रिलेशन में थे। इससे आक्रोशित होकर आरोपित ने इस वारदात को अंजाम दिया।

एक साल के भीतर एनएमसी ने श्रीगंगानगर को दिया दूसरा मेडिकल कॉलेज

मिली जानकारी के अनुसार जगराओं क्षेत्र में तुगल गांव में 38 वर्षीय उपेद्र नामक व्यक्ति की हत्या हो गयी। इस हत्या का आरोप उसके चाचा वीरेन सादा पर लगा है। वीरेन की पत्नी साविया ने पुलिस को रिपोर्ट देकर नामजद मुकदमा दर्ज करवाया है। आरोप है कि उपेन्द्र ने अपनी पत्नी को छोड़ दिया था और वह अन्यत्र रहने लगी थी।

उपेन्द्र अपने चाचा वीरेन के पास रहने लगा और यहां साविया और उपेन्द्र के बीच डेढ़ साल पहले रिलेशन हो गये। दोनों अलग से रहने लगे। वीरेन को यह मंजूर नहीं हुआ और उसने तेजधार हथियार से हमला कर दिया। हमले में उपेन्द्र की मौत हो गयी। मामले की जांच कर रहे सब इंस्पेक्टर करमजीत सिंह ने बताया कि उपेंद्र भी शादीशुदा था, लेकिन उसकी पत्नी उसे छोड़कर किसी और के साथ रहने लगी थी।

 

लम्पी बीमारी से गांव-गांव में बन रही है हड्डा रोड़ी, जूनोसिस से इंसान बचकर रहें

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर गांव तुगल से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी पुलिस ने बचने के लिए भागने की कोशिश कर रहा था। आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने उसे ज्यूडीशियल जेल भेजने का आदेश दिया। आरोपी द्वारा इस्तेमाल किया हथियार बरामद कर लिया गया है।

थानाधिकारी की कार को टक्कर मारकर भागे वाहन में मिला पोस्त

श्रीगंगनगर। श्रीगंगानगर जिले के रामसिंहपुर पुलिस थाना क्षेत्र में शनिवार को एक संदिग्ध वाहन की तलाश में नाकाबंदी कर चुकी पुलिस के वाहन को टक्कर मारकर फरार हुए वाहन से पोस्त बरामद हुआ है। पंजाब के दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

थानाधिकारी डोलाराम बिश्रोई से प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार को सूचना प्राप्त हुई थी कि पोस्त तस्कर रामसिंहपुर दिशा से श्रीगंगानगर होते हुए पंजाब जायेेंगे। इस सूचना के आधार पर कूपली तिराहे के पास नाकाबंदी की गयी। नाकाबंदी दो चरण में की गयी थी।

उन्होंने बताया कि प्रथम चरण की नाकाबंदी को एक संदिग्ध वाहन ने तोड़ दिया किंतु दूसरे चरण की नाकाबंदी को देखकर उन्होंने वाहन को दौड़ा लिया। इस पर उनका पीछा किया गया। आसपास के ग्रामीण क्षेत्र को भी सूचित कर दिया गया। इस कारण वह भाग नहीं पाये और अपने वाहन को खेत की तरफ भगाने लगे। खेत में बनी डिग्गी को वे देख नहीं पाये और वाहन उसमें जा गिरा।

कार में सवार दोनों युवक तैराक थे इस कारण वे डिग्गी से बाहर निकल आये। उनको मौके पर ही दबोच लिया गया। क्रेन की मदद से डिग्गी में गिरी कार को भी बाहर निकाला गया। कार में से 7 क्विंटल पोस्त मिला। पंजाब के जलालाबाद व फिरोजपुर निवासी दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों ने बीकानेर के दंतौर क्षेत्र से पोस्त लाना स्वीकार किया है। उल्लेखनीय है कि थानाधिकारी की निजी कार को पोस्त तस्करों ने टक्कर मारकर क्षतिग्रस्त कर दिया था।

बीकानेर सदर थानाधिकारी ने की शांति समिति की बैठक

बीकनेर सदर पुलिस थाना में आयोजित बैठक

बीकानेर (टीएसएन)। सदर थानाधिकारी विकास बिश्रोई ने कार्यभार संभालने के उपरांत क्षेत्र में शांति बनाये रखने के लिए शनिवार को शांति समिति की बैठक का आयोजन किया।

बैठक में सलीम भुट्टो, विनोद, आनंद सैनी सहित अनेक सदस्यों ने भाग लिया। थानाधिकारी श्री बिश्रोई ने सभी लोगों को आगाह किया कि किसी भी तरह की भ्रांति को न फैलने दें। बोगस न्यूज पर नजर रखें और सभी लोग जैसे दशकों से भाईचारे के रूप में रहते आये हैं, उसी तरह से सद्भाव को बनाये रखें।

SandhyaDeep 6-8-2022

कालू में अपहरण-हत्या का मामला : थानाधिकारी का तबादला, शव का पोस्टमार्टम

बीकानेर (टीएसएन)। युवक के अपहरण और हत्या के मामले में लापरवाही बरतने पर कालू क्षेत्र के थानाधिकारी को लाइन हाजिर कर दिया गया है। थानाधिकारी के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर शव के साथ धरना दिया जा रहा था, जो शनिवार को समाप्त हो गया।

पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार शाम को ओमप्रकाश ज्याणी निवासी कालू का अपहरण हो गया था। उसकी बाइक लावारिस हालत में मिली थी। परिवारजनों ने उसके अपहरण की आशंका जताते हुए थानाधिकारी रज्जीराम को सूचित भी किया था किंतु आरोप है कि पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की।

शुक्रवार प्रात: थाना से महज 300 मीटर की दूरी पर अपहृत ओमप्रकाश का शव मिला था। शरीर पर चोट के निशान थे। पहले इसको सड़क दुर्घटना मानने का प्रयास किया किंतु परिवाजरनों ने हत्या का आरोप लगाते हुए नामजद मुकदमा दर्ज करवा दिया। परिवारजन शव के साथ धरना लगाकर बैठ गये और थानाधिकारी के खिलाफ कार्यवाही की मांग करते रहे। शनिवार को एसएचओ को लाइन हाजिर कर दिया गया। इसके उपरांत परिवारजनों ने शव पोस्टमार्टम के लिए सौंप दिया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि नामजद आरोपितों को राउंडअप कर लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। अवैध संबंध हत्या का कारण हो सकते हैं क्योंकि मृतक पिछले कुछ समय से पत्नी से अलग रह रहा था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments