गोली चलने से घायल
punk firing on police in Alwar district

नशे के खिलाफ अभियान चलाने वाले कार्यकर्ता पर चली गोली

कोट भाई पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

सतनाम सिंह को बठिंडा किया गया रैफर

श्री मुक्तसर साहिब, 12 अगस्त (वार्ता) नशे की समस्या से छुटकारा पाने के लिए पंजाब के गांवों में पुलिस की मदद के लिए बनाई गई नशा विरोधी समितियों के सदस्य नशा तस्करों के निशाने पर आने लगे हैं और पिछले एक सप्ताह में समिति के सदस्यों पर गोली चलने की तीन घटनाएं हुई हैं।


पुलिस ने आज बतााया कि ताजा घटना कल हुई। कोटली अबलूवाला गांव के सतनाम सिंह एक सैलून पर गये थे जब आरोपी ने उन पर गोली चलाई। सतनाम सिंह को पहले डोडा गांव के अस्पताल ले जाया गया और बाद में बठिंडा भेजा गया।
कोट भाई पुलिस थाने के प्रभारी अंग्रेज सिंह ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है तथा जांच जारी है।

बादल, सैनी को जेल भेजने के लिए पद्मश्री लौटाने को तैयार: फुलका


इससे पूर्व लंबी विधानसभा हल्के में शाम खेरा गांव में नशा तस्करों ने पुलिस की सहायता कर रहे लोगों के घरों पर गोलियां चलाई थीं जिसमें अमर सिंह नामक एक व्यक्ति के घायल होने की सूचना है। उसके बाद शुक्रवार को फिरोजपुर जिले के निजामदीनवाला गांव में अर्जन सिंह पर कुछ नशा तस्करों ने गोली चलाई।

डीवाईएसपी 45 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार


पुलिस के अनुसार उन्हें मुक्तसर के गुरूसर और घग्घा समेत कई गांवों से शिकायतें मिल रही हैं कि नशे के आदी और नशा तस्करी करने वाले नशा विरोधी समिति के सदस्यों को धमका रहे हैं।
गुरूसर की नशा विरोधी समिति के एक सदस्य रंजीत सिंह ने बताया कि समितियों के सदस्यों ने जिले में दो महीनों में 25 गिरफ्तारियां कराई हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस समिति सदस्यों को सुरक्षा नहीं दे रही और अब उन्होंने प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को इस संदर्भ में एक ईमेल भेजा है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here