अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प जिस तरह से खाड़ी में अपने सैनिकों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी कर रहे हैं, उससे यह आशंका उत्पन्न हो गयी है कि अमेरिका एक और खाड़ी युद्ध की ओर बढ़ रहा है।

अमेरिका ने ईरान के ड्रोन को गिराने का किया दावा

ईरान और इजरायल के बीच कभी भी अच्छे संबंध नहीं रहे हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बीच गहरी मित्रता है, इसकी जानकारी विश्व काे है। इजरायल के उस कब्जे को भी अमेरिका ने मान्यता दे दी है जिस पर सीरिया अपना दावा करता रहा है। अमेरिका पहला देश है, जिसने उस क्षेत्र को इजरायली  माना है।

अगले साल राष्ट्रपति चुनाव हैं। उन चुनावों में अगर किसी समुदाय की सबसे बड़ी भूमिका होगी तो वह यहूदी होगा। यहूदी समुदाय अमेरिका में सबसे अमीर समुदाय है और वह राजनीति में पूरी दखलांदाजी रखता है।

भारत के साथ रक्षा साझेदारी मजबूत, सबसे मजबूत बनाने पर विचार: पेंटागन

गुरुवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने दावा किया कि ईरानी सेना के ड्रोन ने अमेरिकी युद्धपोत को निशाना बनाने की कोशिश की, जिस पर ईरान के ड्रोन को नष्ट कर दिया गया। इसके लिए फायरिंग नहीं की गयी बल्कि इलैक्ट्रॉनिक जैमर का इस्तेमाल किया गया।

करीबन एक माह पहले ईरान ने दावा किया था कि उसने अमेरिकी ड्रोन को मार गिराया है। उस समय दोनों देशों के बीच तनाव इतना बढ़ गया था कि युद्ध कभी भी हो सकता है, जैसी भविष्यवाणी आरंभ हो गयी थी। डोनाल्ड ट्रम्प ने यह भी बयान दिया था कि उन्होंने अमेरिकी सेना के अभियान को आरंभ होने से 10 मिनिट्स पहले रोक दिया था।

अमेरिकी संसद ने ईरान के साथ युद्ध करने पर राष्ट्रपति के अधिकारों को प्रभावित करते हुए प्रस्ताव पास कर दिया था। अमेरिकी संसद कांग्रेस में विपक्षी दल डेमोक्रेट‌्स का बहुमत है जबकि राष्ट्रपति रिपब्लिकन पार्टी का प्रतिनिधित्व करते हैं।

पाकिस्तान जाधव मामले में कानून के अनुसार आगे बढ़ेगा : इमरान खान

यह भी सच है कि अमेरिका इस समय संरक्षणवाद की नीतियों पर चल रहा है जिससे विश्व के आर्थिक बाजार में उथल-पुथल मची हुई है। ट्रम्प की आर्थिक नीतियों की अमेरिका में सराहना हो रही है किंतु विदेशी मामलों में उनके विरोधियों की संख्या कम नहीं है।

जिस तरह का खाड़ी में माहौल है, उससे लग रहा है कि अमेरिका खाड़ी में एक और युद्ध की ओर बढ़ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here