कर्नाटक, गोवा का हाल देख मध्य प्रदेश और राजस्थान में अलर्ट हुई कांग्रेस

नयी दिल्ली, 11 जुलाई,  दिल्ली कांग्रेस के नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने बृहस्पतिवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात कर दिल्ली वक्फ बोर्ड भर्तियों में कथित अनियमितताओं” की जांच की मांग की। पार्टी नेता परवेज आलम ने कहा कि उनकी पार्टी बोर्ड में “भ्रष्टाचार” का पर्दाफाश करने के लिये जल्द ही धरना देगी। परवेज ने कहा, “हम पूरी राजधानी के मुस्लिम समुदाय के बीच इस मामले को ले जाएंगे कि किस तरह दिल्ली वक्फ बोर्ड के मौजूदा अध्यक्ष निजी लाभ के लिये बोर्ड का गलत इ्स्तेमाल कर रहे हैं।” कांग्रेस नेता पहले भी बोर्ड के अध्यक्ष अमानतुल्ला पर भर्तियों में “अनियमितता और भाई-भतीजावाद” का आरोप लगा चुके हैं।

तेजी के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों उछले

हालांकि खान ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि बोर्ड मुसलमानों के कल्याण के लिये काम कर रहा है। उन्होंने कांग्रेस पर राजनीतिक लाभ के लिये “बेबुनियाद” इल्जाम लगाने का आरोप लगाया। दिल्ली कांग्रेस के एक बयान में दावा किया गया है कि उपराज्यपाल ने प्रतिनिधिमंडल को जांच का आश्वासन दिया है। उपराज्यपाल से मिले प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अली मेहदी, परवेज अहमद और प्रवक्ता हरनाम सिंह समेत कई नेता शामिल थे।