अमेरिका और ईरान के बीच का तनाव चरम सीमा पर

संयुक्त राष्ट्र 25 जून (शिन्हुआ) फ्रांस ,जर्मनी और ब्रिटेन ने खाड़ी में गहराते तनाव पर चिंता व्यक्त करते हुए अमेरिका और ईरान से शांति बहाली के लिए अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत बातचीत के लिए आगे आने का आग्रह किया है।

अमेरिका से राजनियक रिश्ते हमेशा के लिए खत्म हो जायेंगे: ईरान

तीनों यूरोपीय देशों ने ईरान मुद्दे पर सोमवार को सुरक्षा परिषद की बंद कमरे में हुयी बैठक के बाद एक बयान जारी करके कहा,“हम ईरान द्वारा गुरुवार को एक अमेरिकी ड्रोन को मार गिराये जाने के बाद खाड़ी में और बढ़ते तनाव को लेकर बेहद चिंतित हैं। तनाव के चरम पर पहुंचने के बाद स्थिति विस्फोटक हो सकती है। हम चाहते हैं कि अमेरिका और ईरान तनाव कम करने के लिए अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत बातचीत के लिए आगे आयें।”

मेहुल चौकसी की नागरिकता रद्द होगी: एंटीगुआ प्रधानमंत्री

तीनाें देशों ने ओमान की खाड़ी में हाल ही हुए तेल टैंकरों पर हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा,“ यह हमला समुद्री क्षेत्र में परिवहन की आजादी के अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन है। इसके उल्लंघन से पर्यावरण को भी नुकसान पहुंचने का खतरा है। यह हमला पहले से ही तनावपूर्ण स्थिति में आग में घी की तरह है।” तीनों देशों ने ईरान से परमाणु समझौते को अमल में लाने का आग्रह किया।